देशभर में कोरोना महामारी दिन भर दिन अधिक फैैलती जा रही है। ऐसे में सरकार की तरफ से लोगों को अपने घरों में रहने की हिदायत दी जा रही है। इस दौरान 2020 की तरह एक बार 2021 csx फिर से अपने घरों में बंद हो चुके हैं। ऐसे में लोग मंदिर न जाने और घर में ही रहकर पूजा आदि करने के लिए बेबस हो गए हैं। मगर आपको बता दें घर के पूजा स्थल से भी जुड़े कई नियम आदि होते हैं, जिनके बारे में हर किसी को पता होना चाहिए। कहा जाता इन बातों का ध्यान रखने से घर में सुख-समृद्धि बढ़ती है। तो वहीं भगवान भी प्रसन्न होकर परिवार वालों की बिगड़ी सवार देते हैं और उनका जीवन खुशहाल बना देते हैं।

तो आइए बिल्कुल भी देर न करते हुए आपको बताते हैं कौन सी वो चीज़ें हैं, जिनका गर के मंदिर में होना अति आवश्यक होता है-

1. गंगाजलः
कहा जाता है पृथ्वी पर सबसे पावन व पूजनीय चीज़ों में एक है गंगा जल। यही कारण है हिंदू धर्म में होने वाले लगभग हर कृत्य में इसका प्रयोग किया जाता है। यही कारण है कि इसका घर के मंदिर में होना अत्यंत आवश्यक माना जाता है। प्रातः सुबह पूरे घर में इसका छिड़काव करना शुभ होता है।

2. शंखः
शंख को लेकर लोग असमंजस में रहते हैं कि इसका घर में होना शुभ होता है या अशुभ। तो आपको बता दें कि वास्तु शास्त्र के अनुसार शंख की ध्वनि अत्यंत शुभ होती है।जहां सुबह शाम इसकी गूंज सुनाई देती है, वहां वातावरण में कभी नकारात्मकता नहीं आती है। इसलिए इसे घर के मंदिर में रखना चाहिए। संभव हो तो रोज़ाना सुबह- शाम होने वाली पूजा में इसे जरूर बजाएं। इससे जीवन में सुख-समृद्धि व शांति आती है।


3. शालिग्रामः
धार्मिक मान्यताओं के अनुसार शालिग्राम भगवान विष्णु का प्रतीक है। इसे घर में मंदिर में रखवा बेहद शुभ माना जाता है। ध्यान रहे जिस घर में तुलसी का पौधा हो और नियमित रूप से इनकी पूजा करते हों, तो घर में शालिग्राम ज़रूर रखें।


4. गौमूत्रः
सनातन धर्म व हिंदू संस्कृति के अनुसार गौमूत्र पावन पदार्थ माना जाता है, इसे मंदिर में रखने से गौ माता के साथ-साथ समस्त देवी-देवता भी प्रसन्न होते हैं।


5. मोर पंखः
कहते हैं मोर पंख भगवान कृष्ण को अति प्रिय है, कुछ मान्यताएं तो ये हैं कि वो इसमें निवास करते हैं। इसलिए कहा जाता है कि पूजा घर में मोर पंख अवश्य होना चाहिए ताकि भगवान कृष्ण की कृपा बनी रहे।