खेल

मैं RCB से संन्यास लेना चाहता हूं और मेरा हमेशा यह सपना रहेगा’: चहल 

बेंगलुरु
यूएई में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) 2021 का दूसरा हाफ शुरू होने में अब ज्यादा समय नहीं बचा है। लेग स्पिनर चहल को अगले महीने होने वाले टी-20 वर्ल्ड कप के लिए भारतीय टीम में शामिल नहीं किया गया है और इसलिए चहल आईपीएल के दूसरे हाफ में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते हैं और जल्द से जल्द कोरोना से ठीक होने पर ध्यान लगा रहे हैं। उन्हें इस बात की पूरी उम्मीद है कि श्रीलंका में मिली लय यूएई में भी जारी रहेगी। चहल ने यूएई पहुंचने के बाद आरसीबी की जर्सी को तब तक पहनते रहने की इच्छा जाहिर की है, जब तक वे इसे छोड़ने का फैसला नहीं कर लेते। उन्होंने इस बारे में कहा कि, 'मैं आरसीबी से संन्यास लेना चाहता हूं और मेरा हमेशा यह सपना रहेगा कि मैं जब भी आईपीएल में खेलूं तो आरसीबी के लिए ही खेलूं।' ग्लेन मैक्सवेल के आने पर चहल ने कप्तान विराट कोहली को यह कहते हुए क्रेडिट दिया कि मैक्सवेल कप्तान की अपेक्षाओं को जानते थे।' चहल ने कहा कि, 'मुझे लगता है कि किसी खिलाड़ी के खेलने के तरीके में आए बदलाव में कप्तान के बहुत मायने हैं। मैक्सवेल जानते हैं कि हमारे कप्तान भारतीय टीम के भी कप्तान हैं, जिन्हें ढीला रवैया पसंद नहीं है। उन्हें तब अच्छा लगता है जब आप मैदान पर अपना 100 प्रतिशत देते हैं, चाहे आप कुछ भी करें। मैक्सवेल को पता था कि अन्य आईपीएल फ्रेंचाइजी में वह जो ढिलाई बरत रहे थे वह यहां नहीं कर पाएंगे।'

उल्लेखनीय है कि आईपीएल 2020 सीजन में विफल रहने के बाद लिमिटेड ओवर फॉर्मेट में मैक्सवेल की बल्लेबाजी की क्षमता पर सवालिया निशान खड़ा हो गया था, जिसका जवाब उन्होंने इस साल आईपीएल के पहले हाफ में आरसीबी के लिए खेलते हुए छह पारियों में 223 रन बनाकर दिया। बता दें कि श्रीलंका में कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद चहल को मेजबान टीम के खिलाफ आखिरी दो टी-20 मैचों से बाहर बैठना पड़ा था। इससे पहले वे श्रीलंका के खिलाफ दो वनडे मैचों में पांच विकेट के साथ वनडे सीरीज में सर्वाधिक विकेट लेने गेंदबाज रहे थे।

Related Articles

Back to top button
Close