देश

पतंग उड़ाते समय किस तरह से रखनी है सावधानी वरना सप्लाई हो जाएगी बंद: बिजली कंपनियों

नई दिल्ली
रक्षाबंधन और स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर होने वाली पतंगबाजी से बिजली आपूर्ति बाधित होने का डर रहता है। प्रत्येक वर्ष चीनी मांझे से बिजली नेटवर्क को क्षति पहुंचती है। इसे ध्यान में रखकर बिजली वितरण कंपनियों (डिस्काम, DISCOM) द्वारा जागरूकता अभियान चलाया जा रहा है। एफएम रेडियो(FM Radio) और इंटरनेट मीडिया(Internet Media) के जरिये लोगों को जागरूक किया जा रहा है। उन्हें बिजली लाइन के आसपास पतंगबाजी(Kite Flying) नहीं करने की सलाह दी जा रही है। बिजली अधिकारियों का कहना है कि स्वतंत्रता दिवस(Independence Day) के मौके पर दिल्ली में पतंगबाजी की परंपरा है। कई लोग पतंग उड़ाने के लिए धातु लेपित मांझे का इस्तेमाल करते हैं।

इस तरह के मांझे (Chinese Manjha) के तारों के संपर्क में आने से करंट का खतरा रहता है और बिजली आपूर्ति बाधित होती है। 33/66 केवी की बिजली लाइन के ट्रिप होने पर लगभग दस हजार और 11 केवी की लाइन ट्रिप होने पर करीब ढाई हजार घरों की बिजली ठप हो सकती है। बिजली आपूर्ति बहाल करने में 15 मिनट से दो घंटे का समय लग जाता है। इस दौरान अस्पतालों व अन्य जरूरी सेवाओं में कामकाज बाधित हो सकता है। नियम के अनुसार बिजली आपूर्ति में बाधा डालना और बिजली उपकरणों को नुकसान पहुंचाना दंडनीय अपराध है। टाटा पावर दिल्ली डिस्टि्रब्यूशन लिमिटेड (टीपीडीडीएल) के अधिकारियों ने लोगों को चीनी मांझे व धातु वाले अन्य धागों का इस्तेमाल से परहेज करने के साथ ही बिजली लाइन के आसपास पतंगबाजी नहीं करने की सलाह दी है। स्कूली बच्चों को जागरूक करने के लिए आनलाइन कार्यक्रम आयोजित किया जा रहा है। सभी डिस्काम द्वारा इंटरनेट मीडिया पर छोटे-छोटे वीडियो के जागरूक किया जा रहा है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close