राजनीति

BJP-शिवसेना में बिगड़ गई बात, अमित शाह ने रद्द किया महाराष्ट्र दौरा

मुंबई
महाराष्ट्र में सियासी पारा चढ़ता जा रहा है. सीएम की कुर्सी के लिए बीजेपी और शिवसेना में बात नहीं बन पा रही है. इस बीच खबर आ रही है कि पार्टी अध्यक्ष अमित शाह ने अपना महाराष्ट्र दौरा रद्द कर दिया है. उनकी 30 अक्टूबर को विधायकों के साथ बैठक होनी थी. इसकी पुष्टि सीएम सीएम देवेंद्र फडणवीस ने की है. सीएम ने कहा कि हम शिवसेना के साथ औपचारिक और अनौपचारिक बातचीत जारी रखे हुए हैं.

शिवसेना की बयानबाजी से बीजेपी नाखुश
बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह 30 अक्टूबर को होने वाली बैठक में शामिल नहीं होंगे. उनकी बीजेपी विधायकों के साथ बैठक होनी थी. बताया जा रहा है कि अमित शाह पार्टी विधायकों से मुलाकात के बाद शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से भी मिलते और फिर मामले को सुलझा लिया जाता, लेकिन शिवसेना की ओर से की जा रही है बयानबाजी के बाद से अब मामला शांत होता नहीं दिख रहा है. हालांकि मंगलवार बीजेपी नेता प्रसाद लाड ने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे से मुलाकात थी, लेकिन इस मुलाकात में क्या चर्चा हुई, ये अभी सामने नहीं आया है.

बीजेपी-शिवसेना में क्या चल रहा है
बता दें कि महाराष्‍ट्र में मुख्यमंत्री पद को लेकर बीजेपी और शिवसेना के बीच खींचतान के साथ दबाव की राजनीति जारी है. चुनाव नतीजे के बाद से ही शिवसेना ढाई-ढाई साल के फॉर्मूले पर सरकार बनाने पर अड़ी है. जबकि बीजेपी विधायकों के लिहाज से सबसे बड़ी पार्टी होने का हवाला देते हुए इस फॉर्मूले पर सहमत नहीं है. सोमवार को बीजेपी और शिवसेना ने अलग-अलग महाराष्ट्र के राज्यपाल से मुलाकात की थी.

महाराष्ट्र में कोई दुष्यंत नहीं है…
शिवसेना के दिग्गज नेता संजय राउत का कहना है कि महाराष्ट्र में कोई दुष्यंत नहीं है जिसके पिता जेल में हों, हमारे पास भी विकल्प है. संजय राउत ने कहा, 'उद्धव ठाकरे जी ने कहा है कि हमारे पास अन्य विकल्प भी हैं, लेकिन हम उस विकल्प को स्वीकार करने का पाप नहीं करना चाहते हैं. शिवसेना ने हमेशा सच्चाई की राजनीति की है, हम सत्ता के भूखे नहीं हैं.'

मैं ही मुख्यमंत्री बनूंगा…
महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री पद को लेकर शिवसेना और भारतीय जनता पार्टी में चल रही खींचतान के बीच देवेंद्र फडणवीस ने बड़ा बयान दिया. मंगलवार को उन्होंने कहा कि शिवसेना की मांगों पर मेरिट के आधार पर विचार हो रहा है, हमारे पास कोई प्लान B या C नहीं है, ये बात पक्की है कि मैं ही मुख्यमंत्री बनूंगा. देवेंद्र फडणवीस ने कहा कि हमारे पास 10 निर्दलीय विधायकों का समर्थन है, जल्द ही ये संख्या 15 तक पहुंचेगी.

Related Articles

Back to top button
Close