छत्तीसगढ़

दुर्ग के 55 लोग नैनीताल में फंसे

भिलाई
 दुर्ग से नैनीताल घूमने के लिए गए 55 लोग वहां भूस्‍खलन की घटना के बाद फंस गए हैं। फंसे लोगों ने दुर्ग में रहने वाले अपने स्‍वजनों को मैसेज कर सिर्फ इतनी जानकारी दी कि हेल्प चाहिए। इस मैसेज के बाद दुर्ग में रहने वाले स्‍वजन दुर्ग लोकसभा के सदस्य विजय बघेल के पास मदद के लिए पहुंच रहे हैं।

16 अक्‍टूबर को भिलाई-दुर्ग से निकले थे नैनीताल के लिए

भिलाई इस्पात संयंत्र सहित अन्य क्षेत्रों में काम करने वाले 55 लोग अपने परिवार जनों के साथ नैनीताल घूमने गए थे। वे सभी गर्म पानी नामक जगह पर फंस गए हैं। फंसे लोगों में 44 महिलाएं 6 बच्चे व पांच पुरुष हैं। घूमने गए बच्चों के पिता प्रसन्नजीत दास जो रसमड़ा स्थित सिंपलेक्स कंपनी में काम करते हैं। उन्होंने बताया कि पिछले 20 घंटे से उनके घर वाले और बच्चे वहां फंसे हुए हैं।

भूस्‍खलन के कारण और मोबाइल चार्ज नहीं होने से उनसे बात नहीं हो पा रही है घटना से घबराए प्रसन्नजीत दास ने बताया कि वह इस मामले को लेकर दुर्ग लोकसभा के सदस्य विजय बघेल से मदद मांग रहे हैं। उनकी मदद के लिए भिलाई इस्पात संयंत्र के बीएसपी वर्कर्स यूनियन के अध्यक्ष उज्जवल दत्ता भी सांसद से मिलने पहुंच रहे हैं। जिनके द्वारा नैनीताल में फंसे लोगों को बचाने सांसद के माध्यम से केंद्र सरकार से गुहार लगा रहे हैं। उज्जवल दत्ता ने बताया कि नैनीताल की फंसे अधिकांश भिलाई इस्पात संयंत्र के कर्मचारी हैं और इनमें बंगालियों की संख्या ज्यादा है।

Related Articles

Back to top button
Close