देश

गैस चैंबर बने दिल्ली-NCR में तेज हवा के बाद बारिश, जानलेवा प्रदूषण से मिलेगी राहत

 
नई दिल्ली 

दिल्ली की जहरीली हवा से परेशान लोगों से लिए राहत की खबर है. दिल्ली के कुछ इलाकों में बारिश हो रही है. कनाट प्लेस, विजय चौक, केंद्रीय सचिवालय, यमुना बैंक जैसे इलाकों में बारिश हो रही है. बारिश के साथ ही तेज हवा भी चल रही है. बारिश की वजह से वातावरण में मौजूद प्रदूषण के तत्व बारिश में मिलकर नीचे आ जाएंगे. इसके अलावा तेज हवा भी दिल्ली की हवा को स्वच्छ करने में काफी फायदेमंद होगा. तेज हवा की वजह से वातावरण में मौजूद तत्व हवा कम हो सकेंगे. साथ ही ये हवा काफी हद तक साफ हो सकेगी.

टी-20 सीरीज के खिलाड़ियों के लिए भी राहत
पिछले दिनों से लगातार दिल्ली की हवा दिन-प्रतिदिन प्रदूषित होती जा रही है. इस बीच ये बारिश न सिर्फ दिल्लीवालों के लिए प्रदूषण से राहत मिलेगी वहीं दिल्ली में होने वाले टी-20 सीरीज मैच के खिलाड़ियों के लिए भी ये राहत भरी खबर है. मौसम के मिजाज में आये बदलाव की वजह से दिल्ली एनसीआर में बढ़े वायु प्रदूषण के संकट में कमी आ सकती है. वहीं कुछ दिनों से देश की राजधानी दिल्ली और आसपास के इलाके 'गैस चैम्बर' में तब्दील होते नजर आ रहे थे जिससे राहत मिलने की उमीद है.

भारत और बांग्लादेश के बीच तीन मैचों की टी-20 सीरीज का पहला मैच कल यानी रविवार को खेला जाने वाला है. ये मैच दिल्ली के अरुण जेटली स्टेडियम में खेला जाएगा. राजधानी दिल्ली में वायु प्रदूषण के खतरनाक स्तर पर पहुंच गई थी जिसके चलते बांग्लादेश के क्रिकेटर्स गुरुवार को राजधानी के अरुण जेटली स्टेडियम में प्रैक्टिस के दौरान मास्क पहने नजर आए थे. वहीं प्रैक्टिस के समय बांग्लादेशी बल्लेबाज लिटन दास और बाकी खिलाड़ी मास्क पहनकर प्रैक्टिस कर रहे थे.

आकड़े चिंताजनक  
दिल्ली वालों के लिए भी गुरुवार सुबह भी एयर क्वालिटी इंडेक्स(AQI) के आंकड़े चिंताजनक रहे. दिल्ली के आनंदविहार इलाके में जहां AQI 466 रिकोर्ड किया गया तो वहीं अलिपुर में यह आंकड़ा 440 हो गया है. अशोक नगर में AQI 441 रहा, वहीं द्वारका सेक्टर 8 में ये आंकड़े 402 पर पहुंचा.

दिवाली के बाद हवा की गुणवत्ता और भी खराब हो गई. यही नहीं  वायु प्रदूषण में हुए इजाफे के साथ राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र के अस्पतालों में मरीजों की संख्या बढ़ गई है. वायु प्रदूषण के चलते अस्पताल पहुंचने वाले मरीजों में अधिकतर सांस की तकलीफ और आंखों की समस्याओं से घिरे लोग शामिल हैं.

Related Articles

Back to top button
Close