राजनीति

खामोशी में बीता फारूक अब्दुल्ला का 83वां जन्मदिन

श्रीनगर
 नेशनल कांफ्रेंस के अध्यक्ष व सांसद डॉ. फारूक अब्दुल्ला ने सोमवार को 83वां जन्मदिन मनाया, लेकिन बिना किसी ताम-झाम के। जन्मदिन पर सिर्फ उनसे उनकी पत्नी मौली और बेटी साफिया उन्हें मुबारक देने के लिए मिल सकी।

गौरतलब है कि डॉ. फारूक अब्दुल्ला राज्य के उन प्रमुख राजनीतिक नेताओं व कार्यकर्ताओं में शामिल हैं जिन्हें जम्मू कश्मीर में पांच अगस्त को अनुच्छेद 370 हटाने के बाद नजरबंद या हिरासत में ले लिया था। फारूक को उनके ही घर में पब्लिक सेफ्टी एक्ट (पीएसए) के तहत बंदी बनाया गया है। सामान्य परिस्थितियों में उनके जन्मदिन पर राज्य के विभिन्न राजनीतिक दलों के नेता, कार्यकर्ता ही नहीं देश के कई दिग्गज सियासतदान भी उन्हें मुबारक देते थे थे। सोमवार को ऐसा कुछ नहीं था। फारूक का जन्मदिन खामोशी के साथ बीता।

ममता बनर्जी ने याद रखा सिर्फ

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने उन्हें उनके जन्मदिन पर याद रखा। उन्होंने अपने ट्वीटर पर मुबारक देते हुए लिखा फारूक अब्दुल्ला जी आपको जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं। मौजूदा समय आपके लिए काफी मुश्किल भरा है। हम आपके साथ खड़े हैं। अच्छे की उम्मीद में डटे रहें। हम आपकी सेहत की कामना करते हैं। ममता ने उन्हें सकारात्मक रहने का संदेश दिया और बेहतर स्वास्थ्य की कामना की।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close