खेल

एमएसके प्रसाद की धोनी से हुई बात, पंत जैसे युवाओं को मौका देने पर सहमत हैं पूर्व कप्तान

मुंबई 
चयनसमिति के अध्यक्ष एमएसके प्रसाद ने गुरुवार को साफ किया कि वह ऋषभ पंत को लंबे समय तक मौका देने की मंशा रखते हैं और कहा कि महेंद्र सिंह धोनी भी युवाओं को अवसर प्रदान करने के चयनकर्ताओं के रवैये से सहमत हैं। धोनी ने 50 ओवरों के विश्व कप के बाद से खुद को चयन के लिए अनुपलब्ध रखा है। चयनसमिति ने गुरुवार को बांग्लादेश सीरीज के लिए पंत के साथ संजू सैमसन को भी विकेटकीपर के तौर पर टी20 में शामिल किया है। 

प्रसाद ने कहा कि वह पहले ही कह चुके हैं कि अब धोनी से आगे सोचने की जरूरत है और उनके टीम में चयन में यह दिखता है। उन्होंने कहा, ‘विश्व कप के बाद मैंने साफ कर दिया था कि हम अब आगे बढ़ रहे हैं। हम युवाओं को मौका दे रहे हैं और देखिए वह टीम में खुद को स्थापित कर रहे हैं। ऋषभ पंत अच्छा कर रहा है और संजू सैमसन की टीम में वापसी हुई है, मुझे पूरा विश्वास है कि आप हमारी विचार प्रक्रिया को समझ रहे होंगे।’ प्रसाद ने कहा, ‘हमारी निश्चित तौर पर धोनी से बातचीत हुई और उन्होंने भी युवाओं को बढ़ावा देने के हमारे फैसले पर सहमति जताई।’ पंत का पक्ष लेते हुए प्रसाद ने कहा, ‘विश्व कप के बाद मेरी इस पर स्पष्ट राय थी कि अब हम ऋषभ पंत को आगे बढ़ाएंगे। इसलिए हम अब भी उनका पक्ष लेंगे और देखिए कि वह अच्छी प्रगति कर रहे हैं।’ 

धोनी भी युवाओं को मौका देने के पक्ष में 
उन्होंने कहा, ‘यह सही है कि वह कुछ मैचों में हमारी उम्मीदों के अनुरूप प्रदर्शन नहीं कर पाया, लेकिन आप किसी का पक्ष लेकर ही एक खिलाड़ी को तैयार कर सकते हैं। इसलिए हमें यकीन है कि वह सफल रहेगा।’ धोनी के भविष्य के बारे में इस पूर्व विकेटकीपर बल्लेबाज ने कहा कि यह पूरी तरह से उनका फैसला होगा। प्रसाद ने कहा, ‘घरेलू क्रिकेट में खेलना और लय हासिल करना या संन्यास पर विचार करना सब कुछ पूरी तरह से उनका निजी फैसला होगा। हमने पहले ही भविष्य के लिए खाका खींच दिया है।’ 

शिवम दुबे का चयन क्यों? 
पांच सदस्यीय चयनसमिति ने ऑलराउंडर शिवम दुबे को पहली बार मौका दिया है। प्रसाद ने कहा, ‘आपने देखा है कि पहले हमारे पास हार्दिक पंड्या थे, इसके बाद हमने विजय शंकर को भी आजमाया। हम सभी इस पर सहमत थे हमें जिस भूमिका के लिए खिलाड़ी चाहिए उसमें वह (दुबे) फिट बैठते हैं।’ उन्होंने कहा, ‘वह आक्रामक अंदाज में बल्लेबाजी करते हैं। वेस्ट इंडीज में भारत-ए सीरीज और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ वनडे (भारत ए के लिए) में उनका प्रदर्शन शानदार रहा।’ 

Related Articles

Back to top button
Close