बिहार

अच्छी खबर! जेएलएनएमसीएच भागलपुर में संविदा पर 90 नर्सों की होगी बहाली

भागलपुर 
मेडिकल कॉलेज अस्पताल में नवंबर में 90 नर्सों की संविदा पर बहाली होगी। इसकी प्रक्रिया पांच नवंबर से शुरू हो जाएगी जिसे नवंबर के अंत तक पूरा कर लेना है। इस पद के लिए अबतक 800 आवेदन मेडिकल अस्पताल में आ चुका है जिसमें से 350 के करीब आवेदन की छंटनी हो चुकी है। मेरिट लिस्ट के हिसाब से 200 नर्सिंग छात्राओं को पहले चरण में काउंसिलिंग के लिए बुलाया जाएगा।

अस्पताल अधीक्षक डॉ. आरसी मंडल ने बताया कि नवंबर में काउंसिलिंग होगी। इसमें चयनित नर्सिंग छात्राओं को नियुक्ति पत्र सौंपा जाएगा। दिसंबर से नर्स काम शुरू करेंगी। फिलहाल अस्पताल में 446 स्थायी नर्स बहाल हैं। अधीक्षक ने बताया कि अस्पताल में अभी 921 बेड लगा है। इसके अलावे 100 के करीब मरीजों को जमीन पर रखकर इलाज कराना पड़ता है। इस तरह एक हजार के करीब मरीजों का इलाज 24 घंटे होता है। ऐसे में तीन शिफ्ट में नर्सों की तैनाती होती है। 

सीटों की संख्या बढ़ाने की मांग  
मेडिकल अस्पताल में विभिन्न वार्डों में मरीजों की संख्या बढ़ती जा रही है। ऐसे में अस्पताल प्रशासन की ओर से स्वास्थ्य विभाग को सीट बढ़ाने की मांग की गयी है। 40 सीट वाले इमरजेंसी में अतिरिक्त 60 सीट लगाने की मांग की गयी है यानि इमरजेंसी वार्ड 100 सीट का होगा। वहीं 100 बेड के सर्जरी वार्ड को 120 सीट और बढ़ाने की मांग की गयी है यानि सर्जरी वार्ड 220 बेड का बनाने का प्रस्ताव भेजा गया है। इस पर स्वास्थ्य विभाग की ओर से सहमति दी गयी है। मगर अबतक भवन निर्माण की दिशा में काम नहीं हो पाया है। इसके अलावे मेडिसीन वार्ड में 100 सीट अतिरिक्त बढ़ाने की मांग की गयी है। अभी वार्ड में 120 सीट पर मरीजों का इलाज हो रहा है। इस पर विभाग के द्वारा स्वीकृति अबतक नहीं मिली है। 

नर्सों की कार्यप्रणाली पर रखी जा रही नजर 
विभिन्न वार्डों में तैनात नर्सों की कार्यप्रणाली को लेकर अस्पताल प्रशासन की ओर से स्वास्थ्य प्रबंधक को निर्देशित किया गया है कि किसी भी हाल में नर्स ड्यूटी से गायब पायी गयी तो वेतन काटा जाएगा। 

अतिरिक्त ड्यूटी से हटाया जाएगा
कई नर्सों की ड्यूटी दवा काउंटर, ईसीजी सहित अन्य जगहों पर लगायी गयी है। अस्पताल अधीक्षक ने कहा कि ऐसी नर्सों को उनके विभाग और वार्डों में तैनात किया जाएगा।

Related Articles

Back to top button
Close