आगरा। आगरा में सब इंस्पेक्टर प्रशांत यादव की हत्या के आरोपी विश्वनाथ को पुलिस ने मुठभेड़ के बाद गिरफ्तार किया है। विश्वनाथ के दोनों पैरों में गोली लगी है। दरअसल, थाना खंदौली इलाके में 24 मार्च को सब इंस्पेक्टर प्रशांत यादव दो भाइयों के जमीनी विवाद को निपटाने के लिए गए हुए थे, तभी दोनों भाइयों में से एक विश्वनाथ ने तमंचे से गोली मार कर प्रशात यादव के हत्या कर दी थी। इसके बाद विश्वनाथ मौके से फरार हो गया था। पुलिस लगातार विश्वनाथ की तलाश कर रही थी।
  जानकारी के अनुसार विश्वनाथ थाना जैतपुर इलाके में एक मोटरसाइकिल से जा रहा था और पुलिस उसके पीछे लगी हुई थी। पुलिस ने जब विश्वनाथ को रोकने की कोशिश की तो विश्वनाथ ने पुलिस पार्टी पर तमंचे से फिर गोलियां चलाना शुरू कर दीं। पुलिस ने भी जवाबी फायरिंग की। लिहाजा आरोपी विश्वनाथ के दोनों पैरों में गोलियां लग गईं। गोली लगने से घायल हुए विश्वनाथ को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।  पुलिस ने मौके से एक तमंचा और मोटरसाइकिल भी बरामद की है। सब इंस्पेक्टर की हत्या के मामले में विश्वनाथ पर पुलिस के आला अधिकारियों ने 50 हजार का इनाम भी घोषित किया था। सब इंस्पेक्टर प्रशांत की हत्या के बाद से ही एडीजी राजीव कृष्ण लगातार नजर बनाये हुए थे और पूरे मामले को गंभीरता से ले रहे थे। मुठभेड़ के बाद एसपी वेस्ट सत्यजीत गुप्ता और एसपी सिटी रोहन पी बोत्रे भी मौके पर पहुंचे।