BJP का आरोप- बंगाल में TMC के गुंडे लोगों को वोट नहीं डालने दे रहे, चुनाव आयोग से शिकायत की

चार राज्यों और एक केंद्र शासित प्रदेश की 475 सीटों पर 7 बजे से वोटिंग जारी है। इन सीटों पर 5857 प्रत्याशी मैदान में हैं। बंगाल में और असम में ये तीसरे फेज का चुनाव है। इसके साथ ही असम में चुनाव पूरा हो जाएगा। वहीं तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी में आज एक फेज में ही चुनाव हो रहे हैं।

बंगाल में BJP ने आरोप लगाया है कि TMC के गुंडे दगीरा बादुलदंगा में लोगों को वोट नहीं डालने दे रहे। दक्षिण 24 परगना की डायमंड हार्बर सीट से BJP कैंडिडेट दीपर हलदर ने चुनाव आयोग से इसकी शिकायत की है।
बंगाल के उलुबेड़िया में TMC नेता के घर से EVM और VVPAT मिली हैं। इस मामले में चुनाव आयोग ने सेक्टर ऑफिसर तपन सरकार को सस्पेंड कर दिया है। आयोग ने कहा है कि ये रिजर्व EVM और VVPAT थी, जिन्हें अब इलेक्शन प्रोसेस से हटा दिया गया है। इस मामले में शामिल सभी लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी।
बंगाल में वोटिंग से पहले हिंसा हुई है। दक्षिण 24 परगना के कैनिंग वेस्ट विधानसभा इलाके में भाजपा कार्यकर्ता की पिटाई की खबर आई तो हुगली में भाजपा समर्थक की पत्नी की हत्या कर दी गई। इसका आरोप TMC पर लगा है। उधर, दुर्गापुर के कैनिंग पूर्व में ISF और TMC के कार्यकर्ता आपस में भिड़ गए। वहीं BJP ने राईदिघी विधानसभा इलाके में TMC पर पोस्टर फाड़ने का आरोप लगाया है।
मेट्रोमैन ई श्रीधरन केरल के पोन्नानी पोलिंग स्टेशन पर वोट डालने पहुंचे। वे पलक्कड़ से भाजपा के कैंडिडेट भी हैं। ई श्रीधरन ने वोट डालने के बाद कहा कि वे बड़े मार्जिन से जीतेंगे। भाजपा में उनकी एंट्री से पार्टी को एक नई छवि मिली है।
मक्कल निधि मय्यम (MNM) के चीफ कमल हासन चेन्नई हाई स्कूल पोलिंग स्टेशन पर वोट डालने पहुंचे। वे कोयंबटूर दक्षिण सीट से चुनाव भी लड़ रहे हैं। वहीं साउथ के सुपरस्टार रजनीकांत चेन्नई की स्टेला मेरिस में बने पोलिंग बूथ पर वोट डालने पहुंचे।

पश्चिम बंगाल के हुगली जिले के तारकेश्वर से चुनाव लड़ रहे स्वपन दासगुप्ता का मुकाबला रोचक होगा। वहीं, असम में तीन मंत्रियों सहित राज्य के भाजपा अध्यक्ष भी चुनाव लड़ रहे हैं। असम भाजपा के बड़े नेता हेमंत बिस्वा सरमा भी इस फेज में चुनाव लड़ रहे हैं।

बंगाल: अभिषेक बनर्जी जिस सीट से सांसद, वहां भी चुनाव

पश्चिम बंगाल में तीसरे फेज के लिए 31 सीटों पर वोटिंग हो रही है। इस चरण में 205 प्रत्याशी मैदान में हैं। इसमें 13 महिलाएं हैं। ये सीटें 3 जिलों हुगली, हावड़ा और दक्षिण 24 परगना में हैं। चुनाव में सबकी निगाहें हुगली जिले की तारकेश्वर सीट पर टिकी हैं। यहां से BJP ने स्वपन दासगुप्ता को टिकट दिया है। वे पूर्व राज्यसभा सांसद, पत्रकार और पद्म भूषण अवॉर्डी हैं। TMC ने रामेंदु सिंघा रॉय को यहां से टिकट दिया है।
इसके अलावा आरामबाग सीट भी हाईप्रोफाइल है। यहां से TMC ने BJP सांसद सौमित्र खान की पत्नी सुजाता मंडल खान को टिकट दिया है। भाजपा ने मधुसूधन बैग को मैदान में उतारा है। डायमंड हार्बर लोकसभा सीट के तहत आने वाली सीटों पर भी लोगों की नजरें हैं। यहां से मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी सांसद हैं।
 

2016 में TMC ने जीती थीं 31 में से 29 सीटें

2016 में हुए विधानसभा चुनावों में इन 31 में से 29 सीट तृणमूल तो 2 लेफ्ट ने जीती थीं। वोट प्रतिशत की बात करें तो इन सीटों पर TMC को 50%, लेफ्ट को 37% और भाजपा को 7% वोट मिले थे। आज तीसरे फेज की वोटिंग में 78,52,425 लोग मतदान करेंगे। इनमें 39,93,280 पुरुष और 38,58,902 महिलाएं शामिल होंगी। इनमें से 2,30,055 ऐसे होंगे जो पहली बार वोट करेंगे। 1,26,148 वोटर ऐसे होंगे जो 80 साल की उम्र पार कर चुके हैं।
सबसे ज्यादा 11 प्रत्याशी डायमंड हार्बर सीट से मैदान में हैं। 8,840 पोलिंग स्टेशन बनाए गए हैं। इस फेज के लिए सुरक्षा बलों की 832 कंपनियां तैनात की गई हैं। दक्षिण 24 परगना में 307, हुगली में 167 और हावड़ा में 144 कंपनी तैनात की गई हैं। बंगाल में पहले फेज के तहत 27 मार्च और दूसरे फेज के तहत 1 अप्रैल को मतदान हो चुका है। यहां चौथे फेज की वोटिंग 10 अप्रैल को होगी।
 

असम: तय होगी परिवहन, शिक्षा मंत्री और स्वास्थ्य मंत्री की किस्मत

असम में तीसरे चरण और अंतिम चरण के तहत 40 विधानसभा सीटों पर चुनाव है। 373 प्रत्याशी इस चरण में मैदान में उतरे हैं। इनमें 325 पुरुष और 12 महिला उम्मीदवार हैं। इस चरण में राज्य के स्वास्थ्य मंत्री और BJP नेता हिमंत बिस्वा सरमा जलुकबरी से चुनाव लड़ रहे हैं। परिवहन मंत्री चंद्र मोहन पटोवरी धरमपुर, शिक्षा मंत्री सिद्धार्थ भट्टाचार्य गौहाटी पूर्व और BJP प्रदेशाध्यक्ष रंजीत कुमार दास पताचार्कुची सीट से चुनाव लड़ रहे हैं।
यहां 79,19,641 मतदाता वोट डालेंगे। इनमें 40,11,539 पुरुष, 39,07,963 महिलाएं और 139 ट्रांसजेंडर शामिल हैं। इस चुनाव के लिए पैरा मिलिट्री फोर्स की 320 कंपनियां तैनात की गई हैं। 2016 के चुनाव में कांग्रेस को 30.9% तो उसके सहयोगी AIUDF को 13% वोट मिले थे। BJP को 20.5% तो उसके सहयोगी AGP को 8.1% और BPF को 3.9% वोट मिले थे। भाजपा और उसके सहयोगी ने मिलकर 126 में से 86 सीट जीती थीं।
 

केरल: भाजपा ने झोंकी पूरी ताकत, 140 सीटों पर वोटिंग

केरल की सभी 140 सीटों पर चुनाव हो रहे हैं। इन पर 957 प्रत्याशी मैदान में हैं। यहां कम्युनिस्ट पार्टी की सरकार है और वो राज्य में काफी मजबूत है, लेकिन भाजपा ने भी इस चुनाव में अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। वायनाड से कांग्रेस सांसद राहुल गांधी का केरल पर विशेष फोकस रहा है। यहां लेफ्ट LDF, कांग्रेस UDF और भाजपा NDA गठबंधन के तहत चुनाव लड़ रही हैं। चुनाव में 2,74,46,039 वोटर मतदान करेंगे। इसमें 1,32,83,724 पुरुष,1,41,62,025 महिलाएं और 1,41,62,025 ट्रांसजेंडर हैं।

ड्रोन कैमरे से नजर रखी जा रही

केरल के चीफ इलेक्टोरल ऑफिसर ने बताया कि राज्य में 59,292 पुलिसकर्मी और 140 केंद्रीय सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं। इनमें CISF, CRPF और BSF शामिल हैं। पुलिस की 95 कंपनियों को स्टैंडबाई मोड पर रखा गया है। राज्य को 481 पुलिस स्टेशनों में बांटा गया है। टीम में 4,405 सब इंस्पेक्टर, 784 इंस्पेक्टर और 258 डिप्टी सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस शामिल हैं।
जिन सीटों पर हिंसा की आशंका है, उन पर ड्रोन कैमरे से निगरानी की जा रही है। ड्रोन भीड़ में मौजूद लोगों की फोटो कैप्चर करेगा, जिसे पुलिसकर्मियों के बीच सर्कुलेट किया जाएगा। नक्सल प्रभावित इलाकों में SOG की ड्यूटी लगाई गई है। सभी राजनीतिक पार्टियों को कोरोना गाइडलाइन का पालन करने की हिदायत दी गई है।
 

तमिलनाडु: ​234 सीटों पर 3,998 उम्मीदवार​​​​​​

तमिलनाडु में 234 सीटों पर चुनाव हैं। इसके लिए 3,998 उम्मीदवार मैदान में हैं। राज्य में 6.28 करोड़ मतदाता हैं। इनमें 3.08 करोड़ पुरुष और 3.18 करोड़ महिलाएं शामिल हैं। तमिलनाडु में AIADMK के साथ भाजपा, PMK और कुछ छोटी पार्टियां चुनाव लड़ रही हैं। DMK के साथ कांग्रेस CPI(M) और 10 छोटी पार्टियां मिलकर चुनाव लड़ रही हैं। कमल हासन भी यहां चुनाव लड़ रहे हैं। उनकी पार्टी MNM सहयोगी पार्टियों के साथ चुनाव लड़ रही है।
यहां 88,936 पोलिंग बूथ बनाए गए हैं। 8,97,694 मतदाता ऐसे हैं, जो पहली बार मतदान करेंगे। चुनाव के लिए 23,000 सुरक्षाकर्मी तैनात किए गए हैं। 2016 के चुनाव में यहां कांग्रेस ने 15, AINC ने 8, AIADMK ने 4, DMK ने 2 सीटें जीती थीं। BJP उस समय एक भी सीट नहीं जीत सकी थी।
 

पुडुचेरी​: सबने किए बड़े-बड़े वादे

राष्ट्रपति शासन झेल रहे पुडुचेरी की सभी 30 सीटों पर भी आज चुनाव हो रहे हैं। इन सीटों पर 324 प्रत्याशी मैदान में हैं और 10,04,507 मतदाता मतदान करेंगे। यहां चुनाव जीतने के लिए दोनों ही पार्टियों ने वादों की झड़ी लगा दी है। BJP ने पुडुचेरी को विशेष केंद्र शासित प्रदेश का दर्जा देने का वादा किया है तो वहीं कांग्रेस ने एक कदम आगे चलकर पूर्व राज्य का दर्जा देने का दांव चला है। BJP के वादों में राज्य का फंड बढ़ाकर 25 से 40 प्रतिशत करना शामिल है।
कांग्रेस ने राज्य के सभी लोन माफ करने का वादा, सभी को फ्री कोरोना वैक्सीन, SC, ST, OBC और मछुआरों की लड़कियों को फ्री शिक्षा का वादा भी किया है। कांग्रेस और BJP के अलावा यहां कमल हासन की पार्टी मक्कल निधि मय्यम (MNM) भी चुनाव मैदान में है। भाजपा यहां गठबंधन में चुनाव लड़ रही है। BJP यहां 9, AINC 16 और AIADMK 5 सीटों पर चुनाव लड़ रही हैं। कांग्रेस शासित वी नारायणस्वामी की सरकार गिरने के बाद यहां फरवरी में राष्ट्रपति शासन लगा था।